पेमेंट बैंक क्या होती है।पूरी जानकारी हिन्दी मे

नोटबंदी के बाद से Payment Banks काफी प्रचलन में आये हैं। इस से पहले लोग शायद ही पेमेन्ट बैंक के बारे में जानते थे। Payment Banks बैंकिंग सिस्टम का ही एक हिस्सा होते हैं। जो कि बैंक से जुडी सभी मूलभूत सेवाऐं अपने ग्राहकों को देते हैं। रिजर्व बैंक आॅफ इण्डिया ने 19 अगस्त 2015 को Payment Banks के नाम की घोषणा की है। ये बैंक जैसा ही होता है। आइये जानते हैं कि पेमेन्ट बैंक क्या होते हैं और कैसे काम करते हैं।

पेमेन्ट बैंक क्या होते हैं

पेमेन्ट बैंक एक विशेष प्रकार के बैंक होते हैं, जो बैकिंग की मूलभूत सेवाऐं ग्राहकों को देती हैं। लेकिन ये सेवाऐं लिमिटेड होती हैं। ये बैंक लोन नही दे सकते हैं। पेमेन्ट बैंक पूर्ण रूप से तकनीकि युक्त होते हैं। ये बैंक आॅनलाइन रूप से भुगतान करनें के लिये होते हैं। इन बैंकों का कोई भौतिक रूप से कोई अस्तित्व नही होता है। ये अपने ग्राहकों को म्युचुअल फण्ड, इंश्योरेन्स, लोन जैसी सेवाऐं नही दे सकती हैं। ये बैंक डेबिट कार्ड, चेकबुक, आॅनलाइन बैंकिंग और मोबाइल बैंकिंग जैसी सेवाऐं देती हैं।

पेमेंट बैंकों को लॉन्च करने का मुख्य उद्देश्य स्माल सेविंग अकाउंट्स होल्डर्स, लो इनकम हाउसहोल्ड (कम आय वाले परिवार), असंगठित क्षेत्र, प्रवासी मजदूरों और छोटे बिजनेसमैन को बैंकिंग सेवाओं से जोड़ना है।

पेमेन्ट बैंक क्या क्या सेवाऐं दे सकते हैं

1. पेमेन्ट बैंक में आम बैंको की तरह ही ग्राहकों का खाता खोल सकते हैं। ये खाते डिजीटल रूप से खुलते हैं। पेमेन्ट बैंक में खाता खोलने के लिये बैंकों की तरह ही आधार कार्ड या अन्य दस्तावेजों की आवश्यकता होती है।
2. पेमेन्ट बैंक में आप बचत खाता एवं चालू खाता दोनो खोल सकते हैं। पेमेन्ट बैंक्स सेविंग्स डिपोजिट पर कुछ बयाज भी देते हैं।
3. पेमेन्ट बैंक डेबिट कार्ड व चेकबुक भी जारी करते हैं।
4. पेमेन्ट बैंक इण्टरनेट बैंकिंग व मोबाइल बैंकिंग की सुविधा भी प्रदान करते हैं।
5. आॅनलाइन भुगतान के लिये पेमेन्ट बैंक काफी सुविधाऐं देती हैं।

पेमेन्ट बैंक क्या क्या सेवाऐं नही दे सकती है

1. Payment Banks में आप को पासबुक नही मिलती, आपको एक आॅनलाइन वैलेट मिल जाता है। आप इस खाते का आॅनलाइन ही संचालित कर सकते हो।
2. Payment Banks में आप 1 लाख रूपये से ज्यादा पैसे जमा नही कर सकते हो।
3. Payment Banks क्रेडिट कार्ड जारी नही करते हैं।
4. Payment Banks नही देते हैं।
5. Payment Banks बैंक जोखिम बाले उत्पाद नही बेच सकते हैं।

पेमेन्ट बैंक से क्या होगा फायदा

पेमेन्ट बैंक से कोई भी व्यक्ति बिना बैंक जाऐ अपने स्मार्ट फोन से ही अपना खाता खोल सकता है। इसके उपयोग से दूर-दराज ग्रामीण क्षेत्र के लोग भी बैंकिंग सिस्टम से जुड रहे हैं। जिससे भारत को अर्थव्यवस्था में फायदा हो रहा है। वहीं पेमेन्ट बैंक के इस्तेमाल से कैशलैस लेन-देन को बढाबा मिलता है।

पेमेन्ट बैंक में खाता कैसे खुलवाऐं

पेमेन्ट बैंक में खाता खुलवाना बेहद आसान हैं। आप अपने मोबाइल से ही खाता खोल सकते हो। इसके लिये आपके पास एक स्मार्टफोन होना बेहद जरूरी है। पेमेन्ट बैंक में खाता खोलना उतना ही आसान हैं जितना फेसबुक पर आईडी बनाना। सभी पेमेन्ट बैंक में खाता खोलने की प्रकिया एक जैसी है। कुछ पेमेन्ट बैंक ने अपने आउटलेट भी खोल रखे हैं जहाॅ जाकर आप अपना अकाउण्ट खुलवा सकते हो। फिनो पेमेन्ट बैंक का आउटलेट खोलने के लिये यहाॅ क्लिक करें

पेमेन्ट बैंक में खाता खुलवाना क्यो जरूरी है

वैसे तो पेमेन्ट बैंक में खाता खुलवाना अनिवार्य नही हैं। लेकिन अगर आप आॅनलाइन लेन-देन ज्यादा करते हो तो आप पेमेन्ट बैंक में खाता खुलवा ही लीजिये। क्योंकि आॅनलाइन लेन-देन के लिये पेमेन्ट बैंक ज्यादा तेज और सिक्योर होते हैं। वहीं इससे आॅनलाइन भुगतान और लेन-देन करना आसान भी है। अगर आप बात बात पर बैंको के चक्कर नही काटना चाहते हैं तो आप पेमेन्ट बैंक में अपना अकाउण्ट खुलवा सकते हैं।

पेमेन्ट बैंक में अकाउण्ट खुलवाने के फायदे

1. पेमेन्ट बैंक में आप मिनटो में अकाउण्ट खोल सकते हैं। इसके लिये आपको सिर्फ आधार कार्ड की आवश्यकता होती है।
2. पेमेन्ट बैंक में पेपर लैस बैंकिंग होती है इसलिये हर छोटे-बडे काम के लिये स्लिप या फाॅर्म भरने की झंझट से छुटटी मिल जाती है।
3. अपने लेन-देन करने के लिये आपको बैंक जाने की जरूरत नही होती है आप कहीं भी कभी भी अपने स्मार्टफोन से बैंकिंग का फायदा ले सकते हो।
4. पेमेन्ट बैंक मेनस्ट्रीम बैंको की तरह सुबह 10 से 5 तक नही खुलती बल्कि ये 24 घण्टे काम करती हैं।
5. पेमेन्ट बैंक अन्य बैंको की तरह ही चेकबुक और डेबिट कार्ड जारी करती हैं।
6. लगभग सभी जगह आप जैसेः- किसी स्टोर, होटल, बस, ट्रेन, हवाई जहाज, अखबार, चाय की दुकान आदि पर पेमेन्ट बैंक से भुगतान स्वीकार किया जाता है, जिससे आपको काफी सुविधा होगी।

पेमेन्ट बैंक में अकाउण्ट खुलवाने के नुकसान

1. पेमेन्ट बैंक में आप एक महीने में 1 लाख से ज्यादा रूपये जमा नही कर सकते हो। इसमें लेन-देन भी सीमित है।
2. पेमेन्ट बैंक आपको क्रेडिट कार्ड जारी नही करता वहीं पेमेन्ट बैंक आपको लोन भी नही देता है।
3. पेमेन्ट बैंक में अगर आपका मोबाइल खो गया है या हैक हो गया है तो आपके खाते से जमा राशि को भी नुकसान हो सकता है।
4. पेमेन्ट बैंक द्वारा किसी भी प्रकार की असुविधा जैसे गलत ट्रान्जेक्शन, अनुचित तरीके से पैसों का कट जाना आदि समस्याओं के लिये आपको कस्टयूमर केयर पर ही फोन करना होगा। इसमें आप फिजीकली रूप से किसी से शिकायत नही कर सकते। आउटलेट भी इसमें आपकी कोई मदद नही कर सकते हैं।

भारत में संचालित पेमेन्ट बैंक

भारती रिजर्व बैंक ने 19 अगस्त 2015 को 11 कम्पनियों को पेमेन्ट बैंक का लाइसेन्स दिया। जिनमें एयरटेल ने सबसे पहले ऐयरटेल पेमेन्ट बैंक के नाम से बैंक शुरू किया। इसके अलावा अन्य पेमेंट बैंको के नाम निम्नलिखित हैं।

1- Airtel M Commerce Services
2- Adity Birla Nuvo (IDEA)
3- Paytm
4- India Post Payment Bank
5- Fino Paytech
6- National Security Depository
7- Cholamandalam Distribution Services
8- Reliance Industries
9- Sun Pharmaceuticals
10- Tech Mahindra
11- VodaPhone M-Paisa